Visesan kya hai? (विशेषण की परिभाषा और भेद)

अगर आप जानना चाहते है की Visesan kya hai और विशेषण की परिभाषा और भेद के बारे में भी आपको जानना है तो आप यहाँ पर बिलकुल सही आये है।

Visesan kya hai इसके बारे में मेने आपको यहाँ पर बहुत अच्छे तरीके से बताया है।

विशेषण की परिभाषा (Visesan kya hai?)

संज्ञा या सर्वनाम की विषेशता बताने वाले शब्दों को विशेषता कहते है। जो शब्द संज्ञा और सर्वनाम के साथ लग कर उनकी विशेषता को बताते है वो विशेषण होते है। जैसे – बड़ा, मोटा, छोटा, पतला आदि।

विशेष्य क्या है?

वाक्य में जिस संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताई उसे विशेषण कहते है।

विशेषण के भेद और भेदो की परिभाषा

विशेषण के मुख्यत 6 भेद होते है परन्तु सामान्यता विशेषण के 8 भेद होते है।

  1. गुणवाचक विशेषण
  2. संख्यावाचक विशेषण
  3. परिमाणवाचक विशेषण
  4. सार्वनामिक विशेषण
  5. व्यक्तिवाचक विशेषण
  6. प्रशनवाचक विशेषण
  7. तुलनाबोधक विशेषण
  8. संबधवाचक विशेषण

गुणवाचक विशेषण

जो विशेषण हमें संज्ञा या सर्वनाम के रूप, रंग आदि का बोध कराते हैं वे गुणवाचक विशेषण कहलाते हैं।

  • जयपुर बहुत सूंदर शहर है।
  • भारत के लोग बहुत अच्छे होते है।

संख्यावाचक विशेषण

ऐसे शब्द जो संज्ञा या सर्वनाम की संख्या के बारे में बताये उसे संख्यावाचक विशेषण कहा जाता है। जैसे –

  • मेरे दो भाई है।

परिमाणवाचक विशेषण

ऐसे शब्द जो संज्ञा या सर्वनाम की मात्रा के बारे में बताये परिमाणवाचक विशेषण होते है।

जैसे –

  • तुम कितना दूध घर ले जाते हो ?

सार्वनामिक विशेषण

जो सर्वनाम शब्द संज्ञा से पहले आएं एवं विशेषण की तरह उस संज्ञा शब्द की विशेषता बताएं तो वे शब्द सार्वनामिक विशेषण कहलाते हैं।

  • यह लड़का फेल हो गया था।
  • ये बहुत अच्छी लड़की है।

व्यक्तिवाचक विशेषण

जो शब्द असल में व्यक्तिवाचक संज्ञा से बने होते हैं और विशेषण शब्दों का निर्माण करते हैं, वे शब्द व्यक्तिवाचक विशेषण कहलाते हैं।

  • वह पकोड़ी बनाने वाले चाचा है।
  • वह राजू भैया है।

प्रशनवाचक विशेषण

ऐसे शब्द जिनका संज्ञा या सर्वनाम में कुछ जानने के लिए प्रयोग होता है, जैसे कौन, क्या आदि वे शब्द प्रश्नवाचक विशेषण कहलाते हैं।

  • तुम कहा जा रहे हो ?
  • तुम्हारा नाम क्या है ?

तुलनाबोधक विशेषण

जिन शब्दों से दो वस्तुओं कि परस्पर तुलना की जाती है वे शब्द तुलनाबोधक विशेषण कहलाते हैं।

  • भावेश के पुनीत से काम अंक आये।
  • पुनीत, भवेश से ज्यादा तेज है।

संबधवाचक विशेषण

जब विशेषण शब्दों का प्रयोग करके किसी एक वस्तु या व्यक्ति का संबंध दूसरी वस्तु या व्यक्ति के साथ बताया जाए, तो वह संबंधवाचक विशेषण कहलाता है।

  • वह पुस्तक मेरे कमरे में रखी है।
  • तुम मेरे चाचा के पुत्र हो न?
Default image
Sunita Bishnoi
Articles: 2

Leave a Reply